Kharinews

ईसी की बैठक के बाद साई के सामने कैम्प की तारीखों का प्रस्ताव रखेगी एनआरएआई

Jul
09 2020

नई दिल्ली, 9 जुलाई (आईएएनएस)। भारतीय राष्ट्रीय राइफल संघ (एनआरएआई) ने कहा है कि वह 15 जुलाई को स्थिति की समीक्षा करने के बाद भारतीय खेल प्राधिकरण (साई) के सामने डॉक्टर कर्णी सिंह रेंज में लगाए जाने वाले कैम्प की तारीखों को प्रस्तावित करेगी।

साई ने बुधवार को ही कहा था कि टोक्यो ओलम्पिक की तैयारी के मद्देनजर वह रेंज को खोलने जा रही है।

एनआरएआई के सचिव राजीव भाटिया ने आईएएनएस से कहा, हमारी रणनीति यह है कि हम 15 जुलाई को स्थिति की समीक्षा करेंगे। हमने कार्यकारी समिति की बैठक बुलाई है और उस दिन हम फैसला करेंगे कि हमें ट्रेनिंग शुरू करनी है या नहीं। अब हम जानते हैं कि रेंज ओपन है सुविधाएं का इस्तेमाल किया जा सकता है। साई ने कहा कि यह रेंज उपलब्ध है।

उन्होंने कहा कि कैम्प कौन आयोजित कराएगा इसे लेकर साई से कोई विवाद नहीं है क्योंकि एनआरएआई उन 57 राष्ट्रीय खेल महासंघों में से है जिसकी मान्यता को खेल मंत्रालय ने दिल्ली उच्च न्यायालय के आदेश के बाद रद्द कर दिया है। उन्होंने कहा कि वह अपना प्रस्ताव साई को भेजेंगे कि वह 15 जुलाई की बैठक के बाद कैम्प आयोजित कराएंगे।

भाटिया ने कहा, यह मामला तभी उठेगा जब हम कहेंगे कि हम इन तारीखों में कैम्प कराना चाहते हैं और वो कहें कि वो हमारा प्रस्ताव मंजूर नहीं करते। ऐसा अभी तक नहीं हुआ है। हम साई से बात कर लेंगे। हम अपना प्रस्ताव भेंजेंगे जिसमें लिखेंगे कि हम 15 जुलाई के बाद कैम्प आयोजित कराना चाहते हैं।

भाटिया ने साथ ही कहा कि मौजूदा स्थिति जल्दी सुलझनी चाहिए क्योंकि अगर सभी एनएसएफ की मान्यता रद्द कर दी जाएगी तो खेल प्रशासन कैसे चलेगा।

उन्होंने कहा, अगर हमें राष्ट्रीय स्तर पर मान्यता नहीं मिलती है तो यह चिंता की बात है। सरकार अपनी तरफ से सबकुछ नहीं कर सकती। कुछ ऐसी चीजें होती हैं जो सिर्फ महासंघ करती है। सरकार और अदालत 54-60 महासंघ नहीं चला सकतीं। साई,अदालत या वो इंसान जिसने केस किया वो कैसे इस तरह की स्थिति से निपटेगा। क्या वो खुद के दम पर सभी महासंघ चालएगा। यह संभव नहीं है। यह संबंधित महासंघों के द्वारा ही हो सकता है।

--आईएएनएस

Category
Share

Related Articles

Comments

 

बेंगलुरु में फेसबुक पर पोस्ट के 3 घंटे में तेजी से दंगे भड़के : पुलिस

Read Full Article

Subscribe To Our Mailing List

Your e-mail will be secure with us.
We will not share your information with anyone !

Archive