Kharinews

 Breaking News
 

कर्नाटक : सर्वोच्च न्यायालय का विश्वास मत पर तत्काल सुनवाई से इंकार

नई दिल्ली, 22 जुलाई (आईएएनएस)। सर्वोच्च न्यायालय ने सोमवार को कर्नाटक में जनता दल (सेकुलर) - कांग्रेस गठबंधन की सरकार का भविष्य तय करने के लिए विश्वास मत संबंधी याचिका पर तत्काल सुनवाई करने से इंकार कर दिया है। मुख्य न्यायाधीश रंजन गोगोई की अध्यक्षता वाली पीठ ने यह निर्णय सुनाया। याचिका में कर्नाटक की कांग्रेस-जेडीएस गठबंधन सरकार को आज शाम पांच बजे तक विश्वास...

Read Full Article
🔀More Articles
खरी बात

टकराव के बाद फिर बना पारंपरिक सांप्रदायिक सौहार्दपूर्ण माहौल

 

आदित्य बहल नई दिल्ली, 21 जुलाई (आईएएनएस)। पुरानी दिल्ली के हौज काजी इलाके में पीढ़ियों से साथ-साथ निवास कर रहे हिंदू और मुस्लिम समुदाय के बीच पिछले दिनों पार्किं ग को लेकर हुई झड़प सांप्रदायिक टकराव में बदल गई और यह अखबारों की सुर्खियां बनीं, लेकिन दोनों समुदायों के समझदार लोगों की पहल और दिल्ली पुलिस की कोशिशों से दोबारा सामाजिक सौहार्द का माहौल बन...

Read Full Article

मध्यप्रदेश में कमलनाथ सरकार की किरकिरी करा रहीं बसपा विधायक

 

संदीप पौराणिक भोपाल, 22 जुलाई (आईएएनएस)। मध्यप्रदेश में कमलनाथ सरकार को समर्थन दे रही बहुजन समाज पार्टी (बसपा) की विधायक रामबाई सरकार की किरकिरी कराने में लगी हैं। एक तो उनके बयान मुसीबत पैदा कर देते हैं, दूसरी ओर उनकी कार्यशैली सरकार को कटघरे में खड़ा कर देती है। राज्य में सत्ता बदले सात माह बीत गए हैं। इस दौरान दमोह जिले से बसपा विधायक...

Read Full Article

बिहार : बाढ़ पीड़ितों को पेट भरने के लिए करनी पड़ रही जद्दोजहद

 

मुजफ्फरपुर, 17 जुलाई (आईएएनएस)। बिहार के इस जिले में बहने वाली बागमती, लखनदेई और बूढ़ी गंडक नदी में इस साल भी उफान आने से लोगों की मुसीबतें बढ़ गई हैं। गांव के गांव पानी में डूबे हैं। अपनी जान बचाने के लिए लोग गांव, घर छोड़कर ऊंचे स्थानों पर पहुंच रहे हैं, लेकिन उनकी मुसीबतें यहां भी कम नहीं हो रही हैं। लोग अपनी जिंदगी...

Read Full Article

मृत समाज का शोकगीत: आर्टिकल 15

 

सुरेश तोमर जाति हमारे समाज में आदमी का भविष्य तय कर देती है। आपको पता होता कि दुर्भाग्य कहाँ तक आपका पीछा करेगा। शोषण और अपमान की किन अतल गहराइयों को छूना है। दिनकर द्वारा रचित "रश्मिरथी" में एक प्रसंग है जिसमें रंगशाला में सूतपुत्र कर्ण अर्जुन को द्वंद्व युद्ध के लिए चुनौती देता है। तब कृपाचार्य इस द्वंद्व को बचाने के लिए कर्ण से...

Read Full Article

इलेक्ट्रोलाइट पंप से एक मिनट में चार्ज हो सकते हैं इलेट्रिक वाहन

 

विवेक त्रिपाठी अल्मोड़ा (उत्तराखंड), 20 जुलाई (आईएएनएस)। "कौन कहता है कि आसमां में सुराख नहीं हो सकता, एक पत्थर तो तबीयत से उछालो यारों!" दुष्यंत कुमार के इस शेर को चरितार्थ कर दिखाया है उत्तराखंड अल्मोड़ा के काफलीखान क्षेत्र में रहने वाले रवि टम्टा ने। उन्होंने अपने हुनर से पर्यावरण को संरक्षित करने की जरूरत को देखते हुए एक ऐसा यंत्र तैयार किया है, जिससे...

Read Full Article

उप्र : बांदा में डीएम आवास के कुओं को जीर्णोद्धार का इंतजार

 

आर. जयन बांदा, 14 जुलाई (आईएएनएस)। 'नाउन सबके पैर धोवे, आपन धोवत लजाय' वाली बुंदेलखंड की चर्चित कहावत उत्तर प्रदेश में बांदा के जिलाधिकारी के सरकारी आवास परिसर में चरितार्थ हो रही है। इस परिसर के जीर्ण-शीर्ण कुओं को जीर्णोद्धार का इंतजार है। खास बात यह कि इन्हीं कुओं की तस्वीरों का इस्तेमाल कर 'कुआं-तालाब जियाओ' अभियान शुरू किया गया है। उत्तर प्रदेश के हिस्से...

Read Full Article

उत्तराखंड का धनोल्टी पर्यटकों के आकर्षण का केंद्र

 

मुस्कान अग्रवाल धनोल्टी (उत्तराखंड), 14 जुलाई (आईएएनएस)। 'देवभूमि' उत्तराखंड के गढ़वाल क्षेत्र में जब कोई एक सुरम्य स्थल धनोल्टी पहुंचता है, तो वह वहां देवदार के पेड़ों के माध्यम से ताजी हवा महसूस करता है। इस हवा में मिट्टी, लकड़ी की सुगंध और आस-पास के वातावरण की महक मिली होती है। तब आप महसूस करते हैं कि आप भीड़-भाड़ वाले शहर की हलचल को पीछे...

Read Full Article

उप्र : बाजारों ने सावन के परिधानों की बदली रंगत

 

लखनऊ , 12 जुलाई (आईएएनएस)। सावन का माह आते ही भगवान शिव की ओर ध्यान अपने आप आकर्षित होने लगता है। परिधान की भी रंगत बदलने लगती है। इस बार सावन ने बाजारों में परिधानों को नए ट्रेंड में बदल दिया है और रंग से ज्यादा सिंबल प्रिंट ज्यादा चलन में है। सावन में शिव को फोकस करने वाली टी-शर्ट की विशाल रेंज पेश की...

Read Full Article
आधी दुनिया
 

हिसंक होते भारतीय समाज में बच्चों के लिये कोई जगह नहीं

पुण्य प्रसून बाजपेयी घर की जंजीरे / कितना ज्यादा दिखायी पडती है / जब घर से कोई लडकी भागती है.... बीस बरस पहले कवि आलोक धन्वा ने " भागी हुई लडकियां " कविता लिखी तो उन्हे भी ये एहसास नही होगा कि बीत बरस बाद भी उनकी कविता की पंक्तियो की ही तरह घर से भागी हुई साक्षी भी जिन सवालो को अपने ताकतवर विधायक...

Read Full Article
खेल